भारत-जापान के बीच उन्नत मॉडल एकल खिड़की विकास पर हुआ समझौता प्रधानमंत्री डरे हुए हैं, वह सो नहीं सकते: राहुल गांधी गगनयान मिशन के बारे के इसरो ने दी जानकारी 24 घंटे में दोबारा थरथराया जम्मू-कश्मीर, भूकंप से सहमे नागरिक पाक पहले आतंकियों पर कार्रवाई करें फिर होगी बातचीत : भारत

अफसरों की अश्लील हरकतें, महिलाकर्मियों का जीना दूभर

अफसरों की अश्लील हरकतें, महिलाकर्मियों का जीना दूभर

महिला सुरक्षा को लेकर केंद्र और राज्य की सरकारें दावे तो बड़े-बड़े करती हैं, लेकिन छत्तीसगढ़ की सरकार अपने ही अफसरों की अश्लील हरकतों पर लगाम लगाने में नाकाम साबित हो रही है. मामला रायपुर में स्थित श्रम विभाग से जुड़ा है. यहां काम करने वाली महिला कर्मियों का कहना है कि वे अफसरों की अश्लील हरकतों के चलते हमेशा डरी सहमी रहती हैं.

कुछ महिलाकर्मियों का आरोप है कि श्रम विभाग के असिस्टेंट लेबर कमिश्नर से विभाग में काम करने वाली महिलाओं का जीना दूभर हो गया है. वहीं बिलासपुर के एक्साइज अफसर की भी अश्लील हरकतों ने महिलाओं का दफ्तर में काम काज करना मुश्किल कर दिया है.

महिलाकर्मियों की शिकायत पर बिलासपुर के आबकारी अधिकारी के खिलाफ पुलिस ने FIR दर्ज कर ली है. आरोपी अधिकारी के खिलाफ उन्हीं की अधिनस्थ महिला सब इंस्पेक्टर ने शिकायत की है. शिकायतकर्ता महिला सब इंस्पेक्टर ने पुलिस में दर्ज शिकायत में कहा है कि आबकारी अधिकारी अश्विनी कुमार उन पर गलत नीयत रखते हैं.

यौन शोषण की फिराक में लगा देते हैं नाइट ड्यूटी

महिलाकर्मियों का आरोप है कि उन पर बुरी नीयत रखने वाले अफसर जानबूझकर उनकी नाइट ड्यूटी लगा देते हैं, ताकि रात में उन्हें महिला कर्मियों का यौन शोषण करने का मौका मिल सके. पीड़ित महिला सब इंस्पेक्टर की शिकायत के बाद बिलासपुर के सरकंडा थाने में आबकारी अधिकारी अश्विनी कुमार के खिलाफ महिला प्रताड़ना ऐक्ट के तहत FIR दर्ज की गई है.

हालांकि आबकारी विभाग ने इस मामले की जांच विशाखा कमेटी से भी कराने के निर्देश दिए हैं.

'चेंबर में बुलाकर करते हैं अश्लील बातें'

बिलासपुर के आबकारी अधिकारी के खिलाफ शिकायत करने वाली महिला सब इंस्पेक्टर के मुताबिक, आरोपी अधिकारी अपनी मातहत महिला अधिकारियों को बिना किसी वजह के अपने चेंबर में बुलाते हैं. फिर अनावश्यक बातचीत में अश्लील शब्दों का इस्तेमाल करते हैं.

महिलाकर्मियों का आरोप है कि ये कामलोलुप अफसर बातों बातों में उन्हें अश्लील इशारे भी करने से नहीं चूकते. वहीं जब अफसरों की इन गंदी हरकतों से परेशान कोई महिलाकर्मी उन्हें रोकती टोकती है तो गुस्से में ये अफसर उन महिलाकर्मियों की नाइट ड्यूटी लगा देते हैं.

'महिलाकर्मियों के वॉशरूम जाने पर करते हैं भद्दी टिप्पणियां'

वहीं रायपुर में श्रम विभाग भी महिलाकर्मियों के यौन शोषण के मामले में पीछे नहीं है. सहायक श्रम आयुक्त के खिलाफ यहां पदस्थ महिलाओं ने बड़े ही आपत्तिजनक आरोप लगाए हैं. पीड़ित महिलाकर्मियों ने रायपुर के मौदहापारा थाने में शिकायती चिट्ठी भेजकर अपनी आपबीती सुनाई है.

श्रम विभाग में पदस्थ करीब आधा दर्जन महिलाओं ने अपनी शिकायती चिट्ठी में जिन बातों का खुलासा किया है, वे वाकई आपत्तिजनक हैं. सहायक श्रम आयुक्त शोएब काजी पर महिला स्टॉफ ने आरोप लगाए हैं कि वह उनसे यह पूछते रहते हैं कि 'वे बार-बार वॉशरुम क्यों जाती हैं?'

इसके अलावा आरोपी अफसर महिलाकर्मियों की ड्रेस और फिगर को लेकर भी अश्लील टिप्पणी करते रहते हैं. पीड़ित महिलाओं ने सहायक श्रम आयुक्त शोएब काजी के खिलाफ FIR दर्ज कराने की मांग भी की है.

शिकायती चिट्ठी भेजने के बाद खुद पीड़िता महिलाकर्मी थाने पहुंचीं. पीड़ित महिलाकर्मियों का यह भी कहना है कि विभाग की ज्यादातर महिलाएं इस अफसर की गंदी मानसिकता से परेशान हैं. आरोप है कि आरोपी अफसर वॉट्सऐप और फेसबुक पर उनकी फोटो और स्टेटस देखने के बाद अश्लील टिप्पणी भी करता है.

शिकायतकर्ता महिलाओं का कहना है कि वे हमेशा डरी रहती हैं और इस बात की आशंका से घिरी रहती हैं कि कहीं उनके साथ कोई घटना न घट जाए. रायपुर के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रफुल्ल ठाकुर के मुताबिक शिकायतकर्ता महिलाओं के बयान दर्ज कर पूरे मामले की विवेचना की जा रही है. उन्होंने बताया कि सहायक श्रम आयुक्त से भी इस मामले में जल्द पूछताछ की जाएगी.

Source : Agency